दोस्त आप सरताज हो गए !!

A special thanks to all my followers(face book, twitter, google+) , all readers and my co-bloggers mean all friends in the world in my way..... “ हमेशा सुना था मारने वाले से बचाने वाला बहुत बड़ा होता है ” सो इश्क से बड़े तो दोस्त आफ़ताब हो गए ! क्या हुआ जो वो दिल तोड़ … Continue reading दोस्त आप सरताज हो गए !!

मत छोड़ो तुम पत्थर को पर

This is a request to all Kashmiri people please read it and try to understand.we all Indian government , Indian forces or  all people in whole universe like peace and want to see heaven in Kashmir again. so please .......... मत छोड़ो तुम अपने हाथों से पत्थर को पर, इतना तो समझ लो की दुश्मन … Continue reading मत छोड़ो तुम पत्थर को पर

कभी साथ बैठो तो …

  "कभी साथ बैठो ...तो कहूँ कि दर्द क्या है, अब यूँ दूर से पूछोगे....तो ख़ैरियत ही कहेंगे !" “व्यस्त हो आप शायद......तो वक्त ही कहाँ है, जुड़े रहिये शब्दों से हमारे ..... हम भी खुश  ही रहेंगे !”

मुहब्बत जब सच्ची हो तो

This is a message to all lover's from me, please try to understand the depth of this poem. And i need your valuable comments on it ........ मुहब्ब्त जब सच्ची हो तो धड़कने  जुड़ जाती है, सांसो में बहकर रोज प्यार के नगमें  सुनाती है. धड़क धड़क कर उसके भी दिल का हाल बताती है, … Continue reading मुहब्बत जब सच्ची हो तो

तेरी कश्ती निकाल के

हम तो ले आये तूफ़ान से तेरी कश्ती निकाल के, यारा तुम्हे भी तो रखना था मेरा दिल संभाल के. गर दुनियाँ की बंदिशे  इतनी ही बड़ी लगती थी, तो करते आप मुहब्बत भी जरा देखभाल के.......   कल तक हम चलते थे इज्जत से छाती तान के, आज पोंछते रहते हैं बस आंसू अपने रुमाल … Continue reading तेरी कश्ती निकाल के