respect for love !

Hello to all readers , hope you all are happy. Again I am here with my most awaited poem dedicated to all love believers & cultured females and males. Read it and tell me what you think. इक दिन उसने ये पुछा हमसे ! शादी के बाद मैं अपने नाम के पीछे तुम्हारा सरनेम लगाऊंगी … Continue reading respect for love !

Rape is not manhood

बलात्कार करना कहाँ की जाबांजी है। ये तो बस खुद की कायरता को शाबाशी है। किसी को पाना है तो उसका मन पाओ । चाहत रखना गलत नहीं पर पहले उसे जीवन बनाओ।

Oh my bro!ओ मेरे भैया!

ओ मेरे भैया इस राखी तुमसे कुछ कहना है ! मुझे कभी ना  तुमसे नाराज रहना है !! मैं रूठ जाती हूँ तो तुम मुझे मनाया करो ! पास बैठ के मुझे मेरी गलती समझाया करो !! एक दिन इस आँगन से दूर चली जाऊंगी ! फिर ना कभी यहाँ लौट के ऐसे रह पाऊंगी … Continue reading Oh my bro!ओ मेरे भैया!

Stop suicides in Love !

जान देना भी तो मुहब्बत नहीं होती ! माना मुहब्बत बहुत बड़ी होती है ! पर ज़माने में कदर कहाँ होती है !! सो करने वालो संभल के करना ! कदर न मिले तो कभी ना मरना !! अब सभी दिल वालो को संभलना है ! प्रेम मृत्यु के आंकड़ों को बदलना है !! माना … Continue reading Stop suicides in Love !

उसे न छोड़ना किसी के लिए !

आज की सुबह बहुत ही खूबसूरत है ! तुझे ना सही हमें खुद की जरूरत है !! क्यूँ रोयें तेरे लिए हम जिन्दगी भर ! अब हमें भी ख़ुशी की जरूरत है !! बस इतना वादा फिर भी निभाएंगे ! अब दिल ना किसी से लगायेंगे !! हम बहुत बिखरे बहुत टूटे भी हैं ! … Continue reading उसे न छोड़ना किसी के लिए !